Romantic Ghalib Shayari.- Ghalib Quotes On Love In Hindi

Top 20 Romantic Ghalib Shayari – Ghalib Quotes On Love In Hindi

मिर्जा गालिब उर्दू और फारसी भाषा के एक महान शायर थे। उन्हे फारसी कविता के प्रवाह को हिंदुस्तानी जबान में लोकप्रिय करवाने का श्रेय भी जाता है। ग़ालिब का जन्म आगरा में एक सैनिक पृष्ठभूमि वाले परिवार में हुआ था। गालिब को भारत और पाकिस्तान में एक महत्वपूर्ण कवि के रूप में जाना जाता है। वे मुगल काल के आखरी शासक बहादुर शाह जफर के दरबारी कवि रहे थे। आगरा, दिल्ली और कलकता में अपनी जिंदगी गुजारने वाले गालिब को मुख्यत: उनकी उर्दू गजलो के लिए याद किया जाता है। जैसा की हम आपके लिए लाए है गालिब की कुछ प्यार भरी गजले जो आपके अत्यधिक पसंद आएगी।

Top 20 Romantic Ghalib Shayari

#1 Ghalib Shayari
उन के देखने से जो आ जाती है मुँह पर रौनक
वो समझते हैं कि बीमार का हाल अच्छा है।

Romantic Ghalib Shayari.

#2 Ghalib Shayari
चंद फासले भी रखिए हर रिश्ते के दरमियां
क्योकि बदलने वाले लोग अक्सर बहुत अजीज हुआ करते हैं।

#3 Ghalib Shayari
थोड़ा ठहर के सुस्ता ले ऐ जिंदगी
यकीनन थक गई होगी मुझे रूलाते-रूलाते

#4 Ghalib Shayari
‘वो आए मेरी कब्र पर अपने हमसफर के साथ
कौन कहता है कि दफनाए हुए को जलाया नहीं जाता

Romantic Ghalib Shayari.

#5 Ghalib Shayari
किनारे पर तैरती लाश देखकर समझ आया कि
जिंदगी में बोझ शरीर का नहीं सांसों का था

#6 Ghalib Shayari
दिल की न सुन ये फकीर कर देगा,
वो जो उदास बैठे हैं, नवाब थे कभी।

#7 Ghalib Shayari
सुना था मोहब्बत मिलती है मोहब्बत के बदले
पर हमारी बारी आई तो रिवाज ही बदल गया

#8 Ghalib Shayari
खामोशी से मतलब नहीं, मतलब तो बातों का है
दिन तो गुज़र जाता है, मसला तो रातों का है।

Romantic Ghalib Shayari.

#9 Ghalib Shayari
तू ज़ाहिर है लफ़ज़ों में मेरे
मैं गुमनाम हूँ खामोशी में तेरी।

#10 Ghalib Shayari
तुम्हारे बाद अब जिसका भी जी करे मुझे रख ले
जनाज़ा अपनी मऱजी से कभी कन्धा नहीं बदलता

#11 Ghalib Shayari
गीली लकड़ी सा इश्क है जो तुमने सुलगाया है
न पूरा जल पाया है न पूरा बुझ पाया है

#12 Ghalib Shayari
जिस्म से कपड़े उतारने वाले तो बेहुत मिलेंगे इस दुनियाँ में
मगर तलाश तो उसकी है जो जिस्म को ढक सके।

#13 Ghalib Shayari
तर्जुबा कहता है कि रिश्तों में थोड़ा फासला रखिए
ज्यादा नजदीकियां अक्सर दूर्द दे जाती है…

Romantic Ghalib Shayari.

#14 Ghalib Shayari
छोड़ दो अब उससे वफा की उम्मीद गालिब
जो रूला सकता है वो भुला भी सकता है

#15 Ghalib Shayari
डर नहीं रहा मुझे अपनी जिंदगी को खोने से अब
मैने जिंदगी में अपनी जिंदगी खोई है

#16 Ghalib Shayari
समंदर को गुरूर था वो सबको डुबो सकता है
इतने में एक तेल की बूंद आई और उस पर तैरकर निकल गई

Romantic Ghalib Shayari.

#17 Ghalib Shayari
अपना जख्म सरेआम न कर गालिब
क्योंकि नमक होता है हर घर में मरहम नहीं

#18 Ghalib Shayari
हाथों की लकीरों पे मत जा ऐ गालिब
नसीब उन के भी होते हैं जिन के हाभ नहीं होते.

#19 Ghalib Shayari
मैंने तो छोड़ दिया था इश्क करना भी गालिब
उसने फिर बाहें गले में डाल दी

#20 Ghalib Shayari
मोहताज़ रही मोहब्बत मेरी उन्हीं चंद लफ्ज़ो की
जिन्हें मैं कह नहीं पाया और तुझे समझ नहीं आया

Romantic Ghalib Shayari आपको कैसी लगी कृपा कॉमेंट के माध्यम से जरूर बताए । आप इन्हे फेसबुक और व्हाट्सएप द्वारा अपने दोस्तो के साथ भी आसानी से साझा कर सकते है।

2 thoughts on “Top 20 Romantic Ghalib Shayari – Ghalib Quotes On Love In Hindi”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *