Mad man ( infographics)

पागल की सलाह। Pagal Ki Salah Best Moral Story In Hindi

पागल की सलाह। Pagal Ki Salah Best Moral Story In Hindi- पागल हम उस इंसान को कहते है जिसमे बुद्धि नहीं होती या फिर उसे जिसमे बुद्धि सबसे ज्यादा होती है, क्योंकि दुनिया पागलों ने ही बदली है। ये हम सब जानते है।

इस कहानी में हम पढ़ेंगे की जब एक ड्राईवर पागलों से भरी बस को लेकर जा रहा था तो बीच जंगल में रात के समय बस का टायर पंचर हो जाने पर एक पागल की सलाह द्वारा उसका निर्वाण कैसे पाता है।

पागल की सलाह। Pagal Ki Salah Best Moral Story In Hindi

एक बार की बात है, एक पागल खाने में पगलो की संख्या ज्यादा हो गई थी तो पागल खाने के अधिकारियों ने सोचा की कुछ पागल दूसरे पागल खाने में भेज दिए जाए तो अच्छा रहेगा।

यह विचार करके अधिकारियों ने एक बस बुलाई और 50 के लगभग पागल उस बस में बैठा कर अधिकारियों ने ड्राईवर को समझाया की इनको दूसरे पागल खाने में सुरक्षित पहुंचा कर आओ वहां के अधिकारियों से हमारी बात हो चुकी है और यह इनके नाम की लिस्ट है, यह लिस्ट उन अधिकारियों को देना।

ड्राईवर बस लेकर चल दिया। दूसरा पागल खाना शहर से दुर था और जंगल व पहाड़ों का रास्ता था।

चतुर चमार की कहानी

जब बस जंगल में पहुंची तो एक पहाड़ी के पास बस का टायर पंचर हो गया तो ड्राईवर नीचे उतर कर पंचर टायर के नट खोलने लगा और टायर के चारों नट खोलकर एक प्लेट में रख लिए और पंचर टायर को निकाल कर दुसरा टायर चडाया ऐसे करते हुए ड्राईवर का हाथ जोर से फिसला और प्लेट से जा टकराया जिससे सारे नट प्लेट सहित गहरी खाई में जा गिरे।

Pagal Ki Salah Best Moral Story In Hindi. Driver and bus.
Best Moral Story In Hindi

खाई ज्यादा गहरी थी तो नटो को निकालना ना मुमकिन था, अब ड्राईवर बेबसी में खड़ा-खड़ा हाथ मलने लगा की बैगर नटो के टायर कैसे कसा जाए, धीरे-धीरे श्याम होने लगी लेकिन ड्राईवर बेचारा खड़ा इधर-उधर देख रहा था लेकिन उस जंगल में उसकी मदद करने वाला कोई नहीं था। तभी एक पागल बस की जाली में से बोला अरे बेवकूफ ड्राईवर श्याम हो गई थोड़ी देर में रात हो जाएगी, क्या हमे यही पर भूखा मरेगा। हमे बहुत भूख लगी है।

ड्राईवर ने कहा मैं क्या करू टायर के चारों नट खाई में गीर गए नटो के बैगर बस कैसे चलेगी और नट मेरे पास है नहीं। पागल ने कहा बस इतनी सी बात अरे बेवकूफ बाकी तीनों टायरो से एक एक नट खोल ले और इसमें कस दे।

दो वरदान

इतना सुनते ही ड्राईवर के चहरे पर चमक आ गई और वह हैरान रह गया की इतनी छोटी सी बात मेरे समझ में नहीं आई इस प्रकार ड्राईवर ने सोचा किसी को भी तुच्छ नहीं समझना चाहिए, पता नहीं कब किसकी सलाह काम आ जाए।

पागल की सलाह कहानी आपको कैसी लगी कृपा कॉमेंट के माध्यम से जरूर बताए ।

इन stories को भी ज़रूर पढ़ें

संत की परीक्षा

अनसुनी अकबर बीरबल की कहानीयां

Related Posts

चार ब्रह्मण पंचतंत्र की कहानी

वफादार कुत्ते कि कहानी

Best Moral Stories In Hindi 

1 thought on “पागल की सलाह। Pagal Ki Salah Best Moral Story In Hindi”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *